Brother Fucked His Own School Sister at Home Full Story in Hindi

Brother Fucked His Own School Sister at Home : नमस्कार दोस्तों मेरा नाम सेक्सी प्रिया है क्योंकि मैं बहुत ही ज्यादा सेक्सी हूं इसलिए मैंने अपना नाम सेक्सी प्रिया रख लिया है. आज मैं आपको एक कहानी बताने जा रही हूं एक बेबस स्कूल लड़की की यह कहानी मेरी नहीं बल्कि एक स्कूल की लड़की राधिका की है जो अपने ही भाई की हवस की शिकार हो गई.

उसका भाई का नाम राहुल है वह बहुत ही कमिना और घटिया है क्योंकि उसने अपनी छोटी स्कूल की बहन के साथ सेक्स किया है देखा जाए तो ऐसा नहीं करना चाहिए लेकिन मर्द का सामान जब खड़ा होता है तो वह नहीं देखा कुछ भी चलिए ज्यादा समय न लेते हुए नीचे से आप इस कहानी को पढ़ाना शुरू कर सकते हैं मैंने पूरा लिख दिया है.

कहानी कैसी लगी आप हमें बाद में भी बता सकते हैं लेकिन कहानी कैसी थी यह आप हमें जल्दी बताएं वह भी कमेंट बॉक्स में.

Brother Fucked His Own School Sister at Home कहानी यहां से शुरू होती है

हेलो दोस्त मेरा नाम राधिका है ओर मैं ये जो स्टोरी पोस्ट करने जा रही हू वो मेरे और मेरे भाई राहुल के बीच अभी कुछ ही दीनो पहले घटी थी, मैं ओर मेरा परिवार न्यू देल्ही मे रहते है, मेरे भाई ने व इसी साइट पे बहुत सारी चुदाई की स्टोरी पोस्ट की हुए है, क्यूंकी उसने मेरे मों को रोज चोदा है ओर अपना एक्सपीरियेन्स शेयर किया है.

जब उसने मुझे ये बात बताई तो मैं व अपनी ओर अपने भाई की चुदाई की स्टोरी लिखने क लिए रेडी हो गये तो चलिए मैं आप लोगो को ज़्यादा बोर ना करते हुए मैं अपनी स्टोरी पे आती हूँ.

जैसा के मैने आपको बताया की मैं देल्ही की रहने वाली हूँ, ओर मेरे आगे अभी 18 साल है, 18 साल क आगे मे ही मेरे बूब्स किसी 21 साल की गर्ल की तरह बड़े-बड़े ओर फूले हुए है, मेरे वैसे तो नॉर्मली शॉर्ट क्लोद्स ही पहनती हूँ, जिस्मै मेरे गॅंड ओर ज़्यादा बड़े-बड़े हो जाते हैं, ओर मेरा गोरा रंग देख कर कॉपी व मुझे अपने सपनो मे सोच सोच कर मूठ मरने लगेगा, मेरे पूरी बॉडी आई ही ऐसे, मई अपने भाई क बारे मे थोड़ा बता दूं, उसके आगे 23साल की है, ओर वो तोरा तोरा हॅंडसम व है. जिम जाने के करना उसकी बॉडी एक दूं 40 साल क मर्दों जैसे हो गये है, उसके 10 इंच क लंड जो बहुत मोटा हैं, चुदाई करते समये मैं बहुत चिल्लती हूँ क्यूंकी उसके मोटे लंड मेरे कुवारि छूट मे जब जाता है तो मेरे जान ही निकाल देता है.

ये घटना मेरे साथ कुछ दिन पहले ही घटी थी, मेरे घर मे मैं, मेरा भाई ओर मॉं रहती है, शुरू शुरू मैं सेक्स के प्रति इंटरस्ट नही था, लेकिन एक दिन जब मैं स्कूल से बॅंक मरके अपनी सहलीयूं क साथ मूवी देखने आए हुए थे, जो की एक अडल्ट टाइप मूवी थी, हम सब सहेलियाँ प्लॅटिनम का टिकेट लेकर पलतिनों वाली शीट पे जाके बैठ गये, इतने मे मूवी शुरू हो गये, मूवी मे काफ़ी हॉट हॉट सीन थे, मैने देखा की मेरे शीट क पीछे एक कपल बैठा हुआ है ओर वो लोग आपस मे किस कर रहे थे, उसमे जो लेडी थी वो उस आदमी क लंड को पकड़ क अप्पर-नीचे कर रही थी, अंधेरा ज़्यादा होने क करना मुझे बस उनकी बॉडी ही दिखाए दे रही थी.

मैं उन्हे देखकर थोरी-थोरी गरम होने लगी थी ओर मैं अपनी चूत मे व फिँगूर डालके सहलाने लगी थी, मुझे बहुत मज़ा आ रहा था ओर वो दोनो तो अब चुदाई करने ल्गे थे, मुझे ये देख कर बहुत मज़ा आ रहा था, फिर थोड़ी देर मे मेरा पानी निकल गया, मुझे बहुत मज़ा या, फिर वो दोनो व झाड़ चुके थे, कुछ दे रेज़ ही देखने क बाद मूवी ख़तम हू गये, ओर लाइट्स ओं हो गये, मैं पिच्चे मूड कर देख तो मेरे होश उड़ गये वो मेरा भाई (राहुल) ओर मेरे मों (संगीता ) थे, मैने अपने आप को जैसे तैसे उनसे छुपया ओर हम लोग बाहर निकल हाए.

जब मैं घर आ रही थी तो मैने सोचा की मों ओर मेरे भाई आपस मे चुदाई करते है, शुरू-शुरू मे तो मुझे बहुत गुस्सा आया लेकिन बाद मे मैने सोनचा की दाद की डेत हुए व काफ़ी त्यम हो गया ओर मों को व किसी की ज़रूरत थी तो मों ने घर मे ही चुदाई करना सही समझा, इतने मे महशुस किया की मेरे छूट दिबारा से गीली हो चुकी है, मुझे अब इस सब मैं बहुत मज़ा आने लगा था. मैं मॅन ही मॅन सोच रही थी की काश मैं व अपने भाई से छुड़वा सकती, मेरा भाई व मुझे जाम कर छोड़ता सारी रात, मैने सोच की मैं ज़रूर अपने भाई से चड़वौनगी,

कुछ डेन ऐसे ही बीत गये मैं रोज रात मे मम्मी ओर भैया की चुदाई देखती थी ओर रूज रात मे अपनी छूट मे कभी उंगली तो कभी कंडेल घुसतिथि, अब मैने जितना छोटा कड़ा होता था मैं उससे ही पहन क भैया क सामने जाती थी, ओर उनको अपनी गांद मटका मटका क दिखती थी, मुझे लगता था भैया व मुझे नोट कर रहे है, मैने अपने कपड़ो क अंदर ब्रा ओर पेंटी व नही पहनती थी, जिससे मेरे बूब्स काफ़ी हिलते थे और जब मैं भैया क पास पहुचती थी. मैं ज़ोर-ज़ोर से उछालने लगती थी जिससे मेरे बूब्स ओर तेज़ी से अप्पर नीचे होते थे, मैं नोटीस किया था की भैया का लंड खड़ा हो रहा है, मुझे अपना काम बनता नज़र आ रहा था,

एक दिन जब भैया मों की चुदाई कर रहे थे तो…

भैया-आजकल राधिका बड़ी हो गयी है, उसके बूब्स मुझे दीवाना बन रहे है. मों-तो क्या हुआ छोड़ दे उससे, मैने व नाते किया है की वो कुछ दीनो से बहुत चुदाई माँग रही है
भैया-हन मैं अच्छा मौका देख क उससे कल छोड़ दूँगा.

मैने उनकी ये बातईं सुन क मज़े मैं झूमने लगी, ओए अपने कमरते मैं आकर फिंगरिंग करके सू गये ओर अगले दिन का वेट करने लगी

अगले दिन जब मैं सो रही थी तो मैने रात मे सोते समय कुछ नही पहना था, ओर बस एक कपड़ा दल क ही सो रही थी, इतने मैं मों मेरे कमरे मे आ गये ओर मुझे नंगा देख कर उन्होने भैया को इशारा किया, मेरे नींद थोरी-थोरी खुल चुकी थी मैने देखा की मों भैया दोनो मेरे सामने खड़े हैं ओर मों भैया को धीरे से बोली की ये अच्छा मौका है छोड़ दे, मैं मॅन ही मॅन खुश हुए ओर सोने का नाटक करने लगी. इतने मैं मों डोर बंद करके चली गये. भैया मेरे पास धीरे धीरे आए और मेरे बूब्स को पकड़ क मसालने लगे, मैने सोने का नाटक किया फिर उन्होने मेरे अप्पर से कपड़ा हटा दिया ओर मेरे पूरा बदन नंगा हो गया, मैने अभी व सोने का नाटक किया.

फिर भैया मेरे उपर आ गये ओर मेरे होंठो पे किस कर्ण लगे, वो मेरे होंठो को चूसे जेया रहे थे, मैने एक दूं से अपनी आँखे खोली लेकिन भैया को मुझसे दर्र नही लगा मैने झुता मुता नाटक किया ओर अपने आपको छुड़ाने लगी लेकिन भैया क बॉडी की आयेज मेरे एक ना चली ओर फिर मैने हार मान ली, मेरे मॅन की मुराद जो पूरी हो रही थी फिर उन्होने मुझे उठाया ओर मेरे अपना 10 इंच का लंड बाहर निकल दिया, शुरू-शुरू मे तो मुझे बहुत मज़ा आया, लेकिन एक दूं से वो मेरे बलों को पकड़ क मेरा मूह अपने लंड को तरफ ले गये ओर मैने उनके लंड को चूसने लगी मेरे पूरा मूह उनके लंड से भर गया था ओर मैं साँस व नही ले पा रही थी.

वो आँखे बंद करके मज़े लिए जेया रहे थे, लगभग 15 मिनूट तक मुझे लंड चूसने के बाद वो झरने लगे ओर सररा वीर्या वो मेरे मूह मे ही दल दिया मेरा मूह उनके वीर्या से भर गया था, मैने सारा वीर्या पी गये, फिर उन्होने मुझे झुकने का इशारा किया और मैं खुक गये फिर उन्होने मेरे छूट क पास अपना मूह ले जाके चाटने लगे मुझे बहुत आनेंड आ रहा था, लगभग 10 मीं तक मेरे छूट चाटने क बाद मैं झाड़ गये ओर उन्होने मेरा सारा वीर्या पी लिया,

इसके बाद वो मुझे सीधा लिटा दिए ओर मेरे छूट पे क्रीम लेक लगा दी एर अपना कला लंड लेकर मेरे छूट क मूह पर रख दिया मुझे बहुत दर्द हो रा था, फिर वो मेरे लिप्स पे अपनी लिप्स को रख दिया ओर एक जोरदार झटके क साथ अपना आधा लंड मेरे छूट मे डाल दिया मेरे तो जैसे किसी ने गरम गरम लोहा डाल दिया हो ऐसे हालत हो गये थे, मैं चिल्लाना चाहती थी लेकिन उन्होने मुझे मूह से बंद का रखा था, मेरे आँखों मे आँसू आ गये.

फिर उन्होने एक ज़ोर दर झटका मारा ओर उनका पूरा लंड मेरे चूत को फर्था हुआ अंदर चला गया, मैं तो बेहोश होने वाली थी, फिर धीरे-धीरे वो झटका मरने लगे ओर मेरा दर्द कुछ काम हो गया अब मैं मज़े से चुड रही थी ओर सिसक्रियाँ “आहहीुऊुुुुआा” भरे जा रही थी. वो मुझे ओर ज़ोर से चोदे जा रहे थ ओर मुझे मज़ा आ रहा था, लगभग 25 मिनिट की दमदार चुदाई करने क बाद वो झार गये ओर मैं व उनके साथ की झार गये.

फिर उस दिन भर हमने 5 बार चुदाई की, मेरे से चला व नही जा रहा था , लेकिन बाद मे मों ने मुझे क्रीम लगा दी मेरे चूत पे मेरे चूत तो पूरी फट गये थे ओर उसमे से हल्का हलका खून निकल रहा था.

दोस्तों ये थे मेरे ओर मेरे भाई की चुदाई की पहली कहानी, उसके बाद मों ने व हमैन जाय्न कर लिया ओर अब हम लोग रोज चुदाई करते हैं.

निष्कर्ष

देखा आपने राहुल और उसकी बहन राधिका ने किस तरह में एक दूसरे का साथ देते हुए मजे में सेक्स किया और अब वह रोजाना सेक्स करने लग गए हैं. आपको कहानी कैसी लगी आप हमें जरूर बताएं क्या आप लोग भी इस तरह से रोजाना से नई-नई कहानियां पढ़ना चाहते हैं तो आप लोग इस वेबसाइट पर रोजाना आते रहे.

अगर आप लोग राहुल या राधिका की जगह पर होते हैं तो क्या आप एक दूसरे के साथ सेक्स करती है अभी आप हमें बता सकते हैं क्या आप लोगों को सेक्स करना अच्छा लगता है या नहीं.

Leave a Comment